Punjab: पिहोवा में मेरे छोटे भाई का ससुराल..चुनाव प्रचार में CM केजरीवाल ने कही बड़ी बात

TOP स्टोरी चुनाव 2024 पंजाब राजनीति

Lok Sabha Elections 2024: सीएम अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) जेल से जमानत पर बाहर आने के बाद मंगलवार को पहली बार हरियाणा (Haryana) में चुनाव प्रचार के लिए पहुंचे। उन्होंने चुनाव प्रचार (Election Campaign) में सीएम केजरीवाल ने बड़ी बात कहीं। सीएम केजरीवाल ने कहा कि पिहोवा (Pihova) में उनके ‘छोटे भाई’ का ससुराल भी है। पढ़िए पूरी खबर…
ये भी पढ़ेः BJP पर बरसे CM मान..कहा 400 पार नहीं..बेड़ा पार भी नहीं होगा

ख़बरीमीडिया के Youtube चैनल को फौलो करें।

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) ने मंगलवार को हरियाणा के कुरुक्षेत्र के पिहोवा (Pihova) में बीजेपी नीत केंद्र सरकार पर उन्हें जेल में भेजने के लिये हमला करते हुए दावा किया कि ऐसा इसलिए किया गया, क्योंकि वह उनसे डरती है।

उन्होंने यह बात पिहोवा (Pihova) में आप प्रत्याशी सुशील गुप्ता (Sushil Gupta) के समर्थन में किये गए रोड शो के दौरान कही। आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक केजरीवाल को दिल्ली आबकारी नीति में हुए कथित घोटाले से जुड़े धन शोधन के मामले में शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट ने एक जून तक अंतरिम जमानत दे दी थी।

21 मार्च को उन्होंने मुझे जेल भेज दिया: सीएम केजरीवाल

लोगों को संबोधित करते हुए सीेेएम केजरीवाल (CM Kejriwal) ने कहा कि 16 मार्च को चुनाव की घोषणा हुई और 21 मार्च को उन्होंने मुझे जेल भेज दिया। इसका मतलब है कि वे चाहते थे कि केजरीवाल प्रचार न करें। वे केजरीवाल से डरे हुए हैं। उन्होंने पिहोवा में लोगों को संबोधित करते हुए कहा, ‘मेरी पिहोवा में रिश्तेदारी है। आप पूछेंगे कैसे। उन्होंने कहा कि मेरे छोटे भाई और पंजाब के सीएम भगवंत मान के ससुराल वाले पिहोवा के हैं।’

मेरे छोटे भाई का ससुराल: सीएम केजरीवाल

सीएम केजरीवाल (CM Kejriwal) ने कहा, ‘उनके (मान के) ससुर इंद्रजीत सिंह आज हमारे साथ हैं… यहां से एक भी वोट भाजपा को नहीं जाना चाहिए।’ सीएम भगवंत मान (CM Bhagwant Mann) की पत्नी डॉ. गुरप्रीत कौर पिहोवा के एक गांव की रहने वाली हैं।

जमानत पर रिहा होने के बाद केजरीवाल का यह हरियाणा का पहला दौरा था। आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार सुशील गुप्ता (Sushil Gupta) ने रोड शो के दौरान दिल्ली और पंजाब में आप सरकार (AAP Government) द्वारा विभिन्न वर्गों के कल्याण के लिए की गई कई पहलों पर प्रकाश डाला। हरियाणा की सभी 10 लोकसभा सीट पर लोकसभा चुनाव के छठे चरण में 25 मई को मतदान होगा।