Punjab के किसानों के लिए आगे आए CM मान..केंद्र सरकार से की बड़ी अपील

चुनाव 2024 पंजाब

Punjab News: पंजाब के किसानों के लिए सीएम भगवंत मान (CM Bhagwant Mann) आगे आए। सीएम मान ने पंजाब में केंद्र सरकार से बड़ी अपील की है। पंजाब सरकार (Punjab Government) ने रबी की फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य (Minimum Support Price) तय करने के लिए केंद्र सरकार (Central Government) को अपनी सिफारिश भेजी है। पढ़िए पूरी खबर…
ये भी पढ़ेः BJP पर बरसे CM मान..कहा 400 पार नहीं..बेड़ा पार भी नहीं होगा

Pic Social Media

ख़बरीमीडिया के Youtube चैनल को फौलो करें।

आपको बता दें कि फसलों की पैदावार पर आने वाली लागत को आधार बनाकर साल 2025-2026 के लिए गेहूं का रेट 3104 रुपए प्रति कुंतल तय करने की मांग की गई है। लेकिन गत साल 2024-25 के लिए 3077 रुपए की मांग की गई थी, लेकिन मौजूदा समय में 2275 रुपए समर्थन मूल्य मिल रहा है। सरकार को उम्मीद है कि इससे किसानों की आर्थिक स्थिति में सुधार होगा।

सरकार द्वारा हर साल रबी व खरीफ की फसलों (Rabi & Kharif Crops) पर आने वाली लागत को आधार बनाकर कम से कम समर्थन मूल्य निर्धारित कर केंद्र सरकार को भेजे जाते हैं। लेकिन केंद्र सरकार द्वारा सारे राज्यों से आए रेटों के आधार पर इसका आकलन किया जाता है। उसी को आधार बनाकर बनाकर रेट तय किए जाते हैं।

पंजाब सरकार (Punjab Government) ने जौ की फसल के लिए 2450 रुपए देने की मांग की है। जिसका गत वर्ष रेट 1850 रुपए तय किया गया था। इसी तरह चने का रेट 6765 रुपए प्रति कुंतल किए जाने की मांग की गई है। मौजूदा समय में रेट 5440 रुपए है। सरसों की फसल का रेट 6770 रुपए प्रति कुंतल मांगा गया । मौजूदा समय में 5650 रुपए रेट है।

राजस्थान की लागत को बनाया जाता है आधार

राज्य में जौ, चने व बीजों का उत्पादन काफी कम होता है। ऐसे में इन फसलों लागत तय करने के लिए राजस्थान की पैदावार लागत को आधार बनाया जाता है। पंजाब सरकार द्वारा राजस्थान (Rajasthan) की लागत में 10 प्रतिशत बढ़ोतरी करने के साथ ही डॉ. स्वामीनाथन कमीशन (Dr. Swaminathan Commission) की रिपोर्ट के मुताबिक 50 प्रतिशत मार्जिन जोड़ के मूल तैयार किया जाता है। जहां तक गत वर्ष की बात करे तो केंद्र सरकार ने गेहूं के रेट में 150 रुपये की बढ़ोतरी की है।