ग्रेटर नोएडा में सॉफ्टवेयर इंजीनियर का मर्डर या सुसाइड !

दिल्ली NCR

बड़ी ख़बर ग्रेटर नोएडा से आ रही है जहां सड़क के किनारे विप्रो कंपनी के साफ्टवेयर इंजीनियर कर युवक का शव कार में मिला। मृतक के शरीर पर ब्लेड़ के कई निशान थे। उनकी हाथ की एक नस कटी हुई थी और एक हाथ में ब्लेड फंसा हुआ था। इसी आधार पर पुलिस ने युवक की मौत को आत्महत्या बताया है..पुलिस को मौके से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। परिजनों के मुताबिक शुक्रवार सुबह इंजीनियर कार की सर्विस करने के लिए घर से निकले थे..वो कई दिनों से डिप्रेशन में थे।

जानकारी के मुताबिक शुक्रवार स्टेलर हाउसिंग सोसायटी निवासी जितेन्द्र कुमार विप्रो कंपनी में साफ्टवेयर इंजीनियर थे। शुक्रवार की सुबह अपनी गाड़ी की सर्विस करवाने के लिए निकले थे। लेकिन काफी समय बाद तक जितेंद्र कुमार वापस घर नहीं लौटे। घर वालों ने जितेंद्र को कॉल किया, लेकिन वह फोन नहीं उठा रहे थे। इस पर परिवार को कुछ अनहोनी की आशंका जाहिर हुई और मामले की जानकारी पुलिस को भी दी। पुलिस ने जितेंद्र के मोबाइल को सर्विलांस पर लेकर उसकी लोकशन खंगाली। जिसमें पता चला रहा था कि जितेंद्र का मोबाइल ग्रेटर नोएडा के घोड़ी गांव के पास गैलेक्सी गोल चक्कर म्यू-1 मेन रोड के किनारे है। जब पुलिस टीम मौके पर पहुंची तो वहां पर जितेंद्र गाड़ी में ड्राइविंग सीट पर मृत अवस्था में पड़े हुए थे। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।